The scull cap secular

Recently, on Eid, one politician refused to put on scull cap and, as Indian media always does, there was a prominent story on Times Of India homepage. Obvious enough, it must be of national importance as the editors and reporter would have thought. I am in late twenties and have been a journalist for quite […]

भिखारी ठाकुर की एक रचना: कहाँ जईबऽ भईयाऽ

भोजपुरी के महान साहित्यकार भिखारी ठाकुर, जो बिरहा, विलाप और नाटक लिखते थे, उनकी एक रचना रख रहा हूँ: कहाँ जइबऽ भइया? लगावऽ पार नइया, तूँ मोर दुख देखि ल नेतर से बटोहिया। सुनऽ हो गोसइयाँ, परत बानी पइयाँ, रचि-रचि कहिहऽ बिपतियाँ बटोहिया। छोड़ि कर घरवा में, बीच महधारवा में, पियवा बहरवा में गइलन बटोहिया। […]

फ़र्क़ पड़ना चाहिए (It Should Bother You)

फ़र्क़ पड़ना चाहिए वो तस्वीर देखकर जहाँ किसी माँ की गोद में तीन साल की बेटी का आधा शरीर सफ़ेद कपड़े को लाल कर रहा हो फ़र्क़ तो पड़ना चाहिए चाहे वो लाश फ़िलिस्तीनी माँ की गोद में हो या इजराईली या सीरियाई फ़र्क़ पड़ना चाहिए क्योंकि, इस समय में जब कबूतरों की जगह अपनी […]

ऐसा शायद हुआ हो, दावा नहीं कर सकता

यही रोज़े के दिन थे जब मैंने उस पर अपना प्रेम ज़ाहिर किया था। शायद अगस्त का महीना था। हमलोग रोज़ साथ ही रोज़ा खोलते थे। काॅलेज़ कैंपस के आँटी की छोटी दुकान से मैगी खाकर। पास के मस्जिद की अजान से समय का पता लगता था। महीने भर का समय माँगा था उसने। हमारा […]

मानवाधिकार गए तेल लेने: बड़े राष्ट्र

ख़ेमों में कूदना बाक़ी है। यूक्रेन में मलेशिया के विमान को मार गिराया जाता है। हमास के द्वारा तीन किशोरों की कथित हत्या का बदला चालीस बच्चे और दो सौ से अधिक लोगों को मारकर पूरा किया जा रहा है। लेबनान, सीरिया, लीबीया महीनों से गृहयुद्ध जैसी स्थिति झेल रहा है। पाकिस्तान का साप्ताहिक ‘विस्फोट […]

बदायूँ कांड: आॅनर किलिंग या बलात्कार (Badaun Case: Honour Killing or rape?)

बदायूँ कांड (बलात्कार कांड कहना शायद अब तर्कसंगत नहीं है) में नया मोड़ आ गया है जब सीबीआई ने लड़कियों के शवों को निकालने की बात कहीं ताकि दोबारा पोस्टमाॅर्टम हो सके। वजह ये है कि फ़ोरेंसिक रिपोर्ट में एक वाक्यांश आया है, ‘सजेस्टिव आॅफ रेप’ अर्थात् बलात्कार की ओर संकेत। ये वाक्यांश मेडिकल ज्यूरिसप्रूडेंस […]

रेलमंत्री के नाम ख़त (A letter to my Railway Minister, Sadananda Gowda)

रेल किराया बढ़ने से आम आदमी को तब तक आपत्ति नहीं होगी जब आप निम्नलिखित समस्यायों का समाधान दें: १. टिकट समय पर मिले, एजेंट/दलाली का खात्मा हो २. हर स्टेशन साफ़ हो, जहाँ चलने में आसानी हो, बैठने की जगह हो ३. अनाउंसमेंट सिस्टम, इन्फाॅरमेशन देने वाला एलईडी बोर्ड सही हो ४. पूरी ट्रेन […]

दिल गिरा कहीं पर… दफ्फातन…

  वो तेज़ी से मेट्रो की सीढ़ियाँ उतरता चला जा रहा था कि अचानक लगा जैसे वक़्त रुक गया हो। सब कुछ अचानक अपनी नैसर्गिक गति से दो सो गुणा कम पर आ गया हो… बगल से आॅफ-व्हाईट रंग की पारभासी टाॅप, गले में बहुत ही हल्का फ्लोरल पैटर्न वाला स्कार्फ़ जो गले में भी […]

‘मेरे युग का मुहावरा है, फ़र्क़ नहीं पड़ता’

तुमने जहाँ लिखा है प्यार वहाँ सड़क लिख दो फ़र्क़ नहीं पड़ता मेरे युग का मुहावरा है फ़र्क़ नहीं पड़ता ~केदारनाथ सिंह केदारनाथ सिंह ने अपने समय में ये लिखा था और उसके बाद से तो प्यार की जगह सड़क, नाली, टट्टी, पेशावघर, काँजीहौस… कुछ भी लिख दो, फ़र्क़ नहीं पड़ता जी! और प्यार का […]

The caring lot on Facebook and Twitter: Suarez, Sharapova, Gaza and Iraq

Two recent incidents which started trending on Twitter: Suarez bit Italian footballer Chiellini and Tennis player Maria Sharapova showed ignorance on knowing Sachin Tendulkar, arguably the best cricket batsman world has ever seen. With these two incidents, simultaneously two other incidents were taking place: Isreal teens killed in Gaza and Israel air strikes Gaza; and […]