जिसे तुम आज छोड़कर चले गए

जिसे तुम आज छोड़कर चले गए यार मैंने भी वो दुनिया देखी है उसे जिया है जिसे तुम आज छोड़कर चले गए नीली दीवारों के सामने रंग-बिरंगी बातें… जहाँ तुम बैठे हो और जिसे तुम अपना समझ बैठे हो वो जगह कभी मेरी और मेरे दोस्तों की थी जिसे तुम आज छोड़कर चले गए बंद […]

पुरानी हरामज़दगी जारी है…

अन्ना की अनशन बेचीं IPL का जलवा बेचा शांतिभूषण की CD बेचीं अरुणाचल CM का हेलीकॉप्टर बेचा हेलीकॉप्टर की खोज जारी है हमारे CM की गुमशुदगी पर ओबामा killed ओसामा भारी है, सबके ऊपर, प्रिंट, ऑनलाइन और इलेक्ट्रोनिक मीडिया की पुरानी हरामज़दगी जारी है… तू देख वही जो मैं चाहूँ बन जा जंगली, कर ले […]

I am not a high-school lover

Note: this post is just a recollection of my past experiences at college and has nothing to with any individual. If someone identifies with it, it’s a coincidence. One falls in love and mind you we generally don’t say that I was dragged into love or the like. The word fall means a negative phenomenon […]

चाहती है मेरी गर्लफ्रेंड, मै उसे कुछ और भी दूं!

तन समर्पित, मन समर्पित और ये जीवन समर्पित, चाहती है मेरी गर्लफ्रेंड, मै उसे कुछ और भी दूं! दोस्तों से ऋण ले लेकर हो चुका हूँ मैं अकिंचन, हाथ जोड़े अपनी आइटम से कर रहा इतना निवेदन, उधlर लेकर गिफ्ट इस बार भी जब लेकर आऊं, बिन रूठे स्वीकार लेना हे जालिम तुम वो समर्पण […]

कौन शर्मिंदा नहीं है?

नेहरू विहार के जाट कहते हैं,
“सारे बिहारी चूतिये हैं, मारो सालों को…”
कुछ प्रबुद्ध लोग (इनमें बिहार यूपी के ज्यादा हैं) कह्ते हैं,
“सारे ‘चिंकियों’ ने दिल्ली में गन्द मचा रखा है, कुत्ता खाते हैं सब…
किसी दिन इनको देना पड़ेगा!”