यात्रा वृत्तांत: मॉस्को और सेंट पीटर्सबर्ग जीवित स्मारक हैं इतिहास के

मॉस्को जाएँ तो दिन में तो पैदल चलें ही, रात में तो ज़रूर ही चलें। रात में ये शहर एक अलग ही तरह के रंग में दिखता है। क्रिसमस और नववर्ष की तैयारी में एलईडी लाइटों से सजाया हुआ शहर एक अलग छटा बिखेरता है। शहर के बीच, नदी में इमारतों के रंगों से नहाए हुए प्रतिबिम्ब एक बेजोड़ अहसास देते हैं।

उनके नाम जो कहानी कहना चाहते हैं फ़िल्म बनाकर

ये पोस्ट मेरे उन मित्रों और छात्रों के लिए हैं जो फ़िल्मकार बनना चाहते हैं। ख़ासकर उनके लिए जो कहानी कहना चाहते हैं, लिखना चाहते हैं और फिर डायरेक्ट करना चाहते हैं।  बीस से पच्चीस साल के होने का दौर वो दौर होता है जब हर कोई कुछ रिवॉल्यूशनरी या ‘हटके’ करना चाहता है। हर […]

बाप के पैसों का कैमरा लेकर अब सब लौंडे ‘फ़िल्ममेकर’ होने लगे हैं!

कभी कभी कोई मित्र, पूर्व छात्र, फ़ेसबुक फ्रेंड आदि हमारे साथ कोई विडियो शेयर कर के राय माँग लेते हैं कि कैसी लगी आपको, बताइएगा। हमसे क्यों राय माँगते हैं, ये हमें पता नहीं लगा लेकिन हो सकता है कि उन्हें लगता हो कि हमें ज़्यादा समझ में आती है बातें। बता दूँ कि हमें […]