प्रिय गुरमेहर, तुम्हारे दस महीने पुराने विडियो में कुछ भी गलत नहीं है

मैं गुरमेहर को उस विडियो में ‘पाकिस्तान ने मेरे पिता को नहीं मारा, युद्ध ने मारा’ के लिए कुछ नहीं कह सकता क्योंकि उसके आगे और पीछे के संदेश पढने के बाद आपको पता चल जाएगा कि उसमें कुछ भी गलत या बुरा नहीं है।

प्रिय गुरमेहर जी, मीडिया आपके पिता को बेच रही है!

आप को ऐसे दिखाया जा रहा है कि आप अपने स्वर्गीय पिता की अर्थी से बनी बैसाखियों पर चल रही हैं। आप इसे क्यों नहीं नकार रहीं?