सिनिकल लोग संवेदनशील होने का शॉल ओढ़कर मुद्दों के मज़े लेते हैं

सरकार तो यही चाहती है कि एक नेता बेहूदा बयान दे दे, लोग उसी में उलझे रह जाएँ कि क्या बकवास बोलता है। आप लोग हमेशा इसी में उलझकर रह जाते हैं।